Categories
Uncategorised

इलाके की रक्षा

नदी थी एक बड़ी,

वहाँ रहती थी हिरणों की एक गढ़ी,

वन वासी रखते थे वहाँ नज़र कड़ी,

तभी वहाँ एक मुसीबत आ पड़ी|

शेरों का एक बड़ा झुंड वहाँ आया,

हिरणों को बहुत डराया|

बरसात होने लगी टिप-टिप

लोग गए अपने घर में छिप|

हिरणों का था वहाँ कोई नहीं,

डर था शेर न कर दें हमला कहीं

[Click the link below to continue reading]

इलाके की रक्षा

By Anmol Agarwal

a dreamer never dies

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s